Wednesday, May 22, 2024
Homeपडरौनातहसील आपके द्वार- अभियान के माध्यम से जनता को त्वरित/गुणवत्ता पूर्ण दिलाना...

तहसील आपके द्वार- अभियान के माध्यम से जनता को त्वरित/गुणवत्ता पूर्ण दिलाना है न्याय-डीएम

सुरेशचन्द गांधी पप्पू संवाददाता

👉इस कार्यक्रम के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु तहसील स्तर पर टीम का गठन करने हेतु दिए गए निर्देश

👉भूमि विवाद के संवेदनशील मामलों के निस्तारण में अनदेखी नही की जाएगी बर्दाश्त-डीएम

👉संवेदनशील प्रकरणों को चिन्हित कर त्वरित एवं गुणवत्तापूर्ण निस्तारण करना सुनिश्चित करें – डीएम

एएमटी न्यूज कुशीनगर तहसील आपके द्वारा अभियान* के दृष्टिगत जिलाधिकारी उमेश मिश्रा की अध्यक्षता में कल देर सायं कलक्ट्रेट सभागार में बैठक संपन्न की गयी। बैठक में जिलाधिकारी द्वारा उपस्थित समस्त उपजिलाधिकारी, तहसीलदार ,राजस्व निरीक्षक, लेखपालों को अभियान के उद्देश्यों तथा इसके सफल क्रियान्वयन के लिए बनाई गई रणनीति के विषय में विशेष जानकारी दी गई। जिलाधिकारी ने कहा कि तहसील आपके द्वार अभियान के दृष्टिगत प्रत्येक ग्राम सभा में राजस्व विभाग के भूमि विवाद प्रकरणों को चिन्हित करें एवं आईजीआरएस, संपूर्ण समाधान दिवस तथा थाना दिवस के अवसर पर प्राप्त शिकायतों के निस्तारण के क्रम में कृत कार्यवाही ,फोटो व वीडियो सहित सहेज कर रखें। जिलाधिकारी ने कहा कि संवेदनशील भूमि विवाद के प्रकरणों को नैतिकता एवं पूर्ण जिम्मेदारी के साथ नियमानुसार सौहार्दपूर्ण, गुणवत्तापूर्ण एवं ससमय निस्तारण करना सुनिश्चित करें।

तहसील आपके द्वारा अभियान का लक्ष्य
जिलाधिकारी ने कहा कि इस अभियान का लक्ष्य जनता को सुलभ व त्वरित न्याय प्रदान करना, आमजन के मन में जिला प्रशासन एवं व्यवस्था के प्रति विश्वास पैदा करना ,सहमति एवं सौहार्द के आधार पर न्याय करते हुए भूमि विवादों में कमी लाना है।

संचालित प्रक्रिया:
अभियान के अंतर्गत संचालित प्रक्रिया के विषय में अपर जिलाधिकारी वैभव मिश्रा ने बताया कि आमजन को गुणवत्तापूर्ण , सुलभ, त्वरित ,वैध एवं स्थाई न्याय प्रदान करने के लिए तहसील स्तर पर तीन प्रकार की टीम यथा एडवांस टीम, फील्ड वर्क टीम एवं निर्णय टीम का गठन करते हुए राजस्व संहिता 2006 में प्रदत्त शक्तियां, प्रावधानो एवं अधिनियम का प्रयोग करते हुए नियमानुसार प्राप्त शिकायतो एवं चिन्हित संवेदनशील भूमि विवाद के प्रकरणों का निस्तारण करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि आईजीआरएस पर शासन की विशेष प्राथमिकता है, आईजीआरएस में प्राप्त शिकायतों का गुणवत्तापूर्ण निस्तारण करने के उपरांत शिकायतकर्ता का फीडबैक अवश्य लें और उन्हें जनसुनवाई पोर्टल पर उपलब्ध फीडबैक के बारे में भी अवगत कराए।बैठक में समस्त उपजिलाधिकारी, तहसीलदार, राजस्व निरीक्षक, लेखपाल तथा जनपद स्तरीय अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments